Entertainment

A.R.रहमान सर की जीवनी, संपत्ति, पत्नी और बहुत कुछ

A.R.रहमान सर की जीवनी, संपत्ति, पत्नी और बहुत कुछ

परिचय
आज के दौर में जब भी हम बॉलीवुड के बारे में सोचते हैं, तो एक नाम जो हमारे मन में उठता है, वह है आर. रहमान। यह महान संगीतकार एक अद्वितीय संगीतीय दृष्टिकोण और अद्वितीय संगीतीय क्षमता के मालिक हैं। रहमान सर के बारे में अधिक जानने के लिए इस लेख को पढ़ें।

बाल्यकाल और प्रारंभिक जीवन
रहमान सर का जन्म 6 जनवरी, 1967 को भारतीय राज्य बिहार के राजधानी पटना में हुआ। उनके पिता का नाम रजा मोहम्मद आब्दुललाह ख़ुली क्योंकि वे इस्लामी विश्वविद्यालय, मद्रास के प्रोफेसर थे। उनकी मां का नाम कारीमा बेगम हैं और वे एक गृहिणी हैं।

रहमान सर के बचपन का समय उनके लिए संगीत के प्रति प्रेम व्यक्त करने का समय था। उनके पिता के संगीत शोध केंद्र में काम करते वक्त, उन्होंने वहाँ पर अनेक संगीतीय प्रदर्शनों का अनुभव प्राप्त किया। यह उनकी संगीतीय कारियर की शुरुआत के लिए एक महत्वपूर्ण धारणा साबित हुआ।

संगीतीय करियर की उड़ान
रहमान सर के संगीतीय करियर की उड़ान उनके बचपन से ही उड़ी। वे एक उच्च विद्यालय में अपनी शिक्षा पूरी करने के बाद अपनी संगीत की पढ़ाई के लिए चेन्नई चले गए। यहाँ पर उन्होंने संगीत के क्षेत्र में एक प्रमुख स्थान बनाया और उनका संगीत जल्दी ही मशहूरी प्राप्त करने लगा।

रहमान सर की पहली संगीत की फ़िल्म 1992 में रिलीज़ हुई “रोज़ा” थी। इस फ़िल्म के गाने और संगीत ने सारे देश में धूम मचा दी और उन्हें बेहद प्रशंसा मिली। यह फ़िल्म उनकी करियर का सबसे पहला मुख्य कार्य है और इसने उन्हें तारीफ़ का अवसर प्रदान किया। इसके बाद से उन्होंने अनेक बड़ी-बड़ी फ़िल्मों में संगीत दिया और अपनी मार्क बनाई।

रहमान सर की प्रमुख परियोजनाएं
आर. रहमान की योगदान से भरपूर संगीतीय परियोजनाओं में कुछ मुख्य हैं जिन्हें उन्होंने संगीत दिया है। ये परियोजनाएं उनके उच्च संगीतीय क्षमता और अद्वितीय संगीतीय दृष्टिकोण को दर्शाती हैं। यहाँ प्रमुख परियोजनाओं की कुछ सूची दी गई है:

1. दिल से (1998)
यह फ़िल्म रहमान सर की एक और महानतम संगीतीय परियोजना थी। इसमें उन्होंने गाने, संगीत और गीतों को एक साथ मिश्रित किया। फ़िल्म के गाने अपार सफलता के साथ चार्ट बस्टर बन गए और उन्हें एक बार फिर से संगीतकार के रूप में मान्यता मिली।

2. ताल (1999)
“ताल” एक और फ़िल्म है जिसमें आर. रहमान ने अपनी संगीतीय प्रतिभा का परिचय दिया। इस फ़िल्म में उन्होंने गाने, संगीत और बैकग्राउंड स्कोर को मिश्रित किया और बहुत सारे पुरस्कार जीते।

3. गुरु (2007)
“गुरु” एक ऐतिहासिक बायोपिक थी जिसमें आर. रहमान ने अपनी संगीतीय प्रतिभा का परिचय दिया। इस फ़िल्म में उन्होंने गाने और संगीत को एक साथ मिश्रित किया और इसके लिए कई पुरस्कार प्राप्त किए।

ये सिर्फ़ कुछ मुख्य परियोजनाएं हैं जिनमें आर. रहमान ने अपनी उच्च संगीतीय क्षमता का प्रदर्शन किया है। उनकी संगीतीय यात्रा अभी भी जारी है और वे नए और रोमांचक परियोजनाओं पर काम कर रहे हैं।

संपत्ति
रहमान सर एक महानतम संगीतकार के रूप में बहुत सारी महत्वपूर्ण पुरस्कारों और सम्मानों से सम्मानित हुए हैं। उनकी संपत्ति का मूल्य मिलियन डॉलर्स में है और वह एक सफलतापूर्वक व्यापारी भी हैं।

पत्नी और परिवार
आर. रहमान की पत्नी का नाम सुल्ताना आब्दुललाह हैं। उनकी पत्नी उनके साथ उनके संगीतीय करियर में हमेशा साथ दी हैं और उनकी सफलता में बहुत योगदान किया है। इसके अलावा, रहमान सर के पास दो बेटे हैं जिनका नाम आमीर और अलिया है। उनका परिवार उनके लिए सबसे महत्वपूर्ण है और वे अपने परिवार के साथ समय बिताने का ख़ास आनंद लेते हैं।

आर. रहमान एक ऐसे संगीतकार हैं जिन्होंने भारतीय संगीत को वैश्विक स्तर पर पहुँचाया है। उनकी संगीतीय क्षमता, उनकी मेलोडियों की ख़ास पहचान, और उनके आदान-प्रदान करने का तरीका उन्हें एक अद्वितीय संगीतकार बनाता है। उनकी प्रशंसा वास्तविकता से अधिक है और उनके निरंतर संगीतीय योगदान से हम सभी को प्रभावित करता है। आर. रहमान सर ने संगीत जगत में अपनी अलग पहचान बनाई है और उनकी संगीतीय यात्रा अभी भी जारी है, जहाँ वे नए उच्चारणों को प्रस्तुत करते हैं और अपने और संगीत के जरिए लोगों को प्रभावित करते हैं।

यह लंबा और विस्तृत लेख आपके लिए तैयार किया गया है। हम आशा करते हैं कि यह आपको पसंद आएगा और आपकी आवश्यकताओं को पूरा करेगा।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top